तीसरे पक्ष का निरीक्षण

सैन्य विमानन स्टोर के संदर्भ में एचएएल के द्वारा अपने उपठेकेदार के लिए थर्ड पार्टी निरीक्षण सेवाएं निजी क्षेत्र के लिए एक नए अध्याय का आरंभ है । सैन्य विमानन के लिए निजी क्षेत्र में निरीक्षण इको सिस्टम का विकास और स्वनियंत्रण का वातावरण तैयार करना ही इसका उद्देश्य है । तथापि मुख्य ठेकेदारों द्वारा आउटसोर्सिंग के मूल सिद्धांतों को रेखाकिंत करते हुए टीपीआई/विक्रेता क्यू सी को सौंपे गए उत्पादों एवं सेवाओं की गुणवत्ता के लिए एचएएल जिम्मेवार होगा । संभावित निरीक्षण निकाय दस्तावेज में निर्धारित की गई कठोर आवश्यकताओं को पूरा करें और भारतीय और साथ ही वैश्विक निर्माता के लिए निरीक्षण गतिविधियों के लिए समय के साथ परिपक्व हों । यह भारत सरकार द्वारा अपनाया गया सक्रिय दृष्टिकोण है जिसका लक्ष्य है यह निरीक्षण इको सिस्टम भारतीय विमानन क्षेत्र में मेक इन इंडिया अभियान के साथ परिपक्व हो । निरीक्षण निकायों की गुंजाइश निरीक्षण गतिविधियों तक सीमित है और वे अपने निरीक्षण के दौरान देखे गए विचलन/गैर अनुरूपता पर निर्णय लेने के लिए अधिकृत नहीं हैं ।

सैन्य विमानन में मेक इन इंडिया कार्यक्रम से तालमेल बनाए रखने तथा आत्मनिर्भरता के लिए, एमएसएमई और निजी क्षेत्रों की भागीदारी भविष्य में कई गुणा बढ़ जाएगी । साथ ही रक्षा मंत्रालय द्वारा रक्षा निजी क्षेत्र उपक्रमों को भी आधारभूत सक्षमता पर ध्यान केन्द्रित रखने, एकीकृत रूप से कार्य करने का परामर्श दिया गया है । इसका परिणाम है कार्य केंद्रों की बहुलता और इन कार्य केन्द्रों में सैन्य स्टोर के लिए कड़ी गुणवत्ता आवश्यकता को प्रभावशाली एवं सशक्त रूप से बिना निरीक्षण कार्य का प्रबंधन करना एचएएल एवं वै.गु.आ.मनि के लिए एक चुनौती है । इस पृष्ठभूमि के साथ एचएएल ने उप-ठेकेदारों के परिसर में निरीक्षण गतिविधियों के लिए टीपीआई की सेवाओं का उपयोग करने का प्रस्ताव रखा ।

एयरोस्पेस क्षेत्र/सैन्य विमानन स्टोरों में अग्रणी एयरोस्पेस उद्योगों/ओईएम का विस्तार से अध्ययन किया गया है । तदनुसार एचएएल के द्वारा आउटसोर्स विक्रेताओं के लिए तृतीय पक्ष निरीक्षण निकायों की सेवाओं का उपयोग के लिए एक मॉडल एचएएल और वै.गु.आ.मनि द्वारा संयुक्त रूप से विकसित किया गया ।यह मॉडल रक्षा मंत्रालय द्वारा पूरे एचएएल डिविजन में चरणबद्ध रूप में अनुमोदित था (पहले चरण में गैर महत्वपूर्ण और दूसरे चरण में महत्वपूर्ण) मॉडल के सुचारू कार्यान्वयन के लिए, तृतीय पक्ष निरीक्षण सेवाओं आउटसोर्स विक्रेताओं के चयन और उपयोग हेतु एक पॉलिसी दस्तावेज तैयार किया गया और माननीय रक्षा मंत्री द्वारा जारी किया गया । इस पॉलिसी दस्तावेज के मुख्य बिंदु नीचे दिए गए हैं ।

        • • निरीक्षण निकायों का अनुमोदन (आईबीस)
        • • निरीक्षण निकायों को अनुमोदन प्रदान करने के लिए पूर्व आवश्यकताएं
        • • आईबी को मान्यता
        • • गैर महत्वपूर्ण स्टोरों के लिए अनुमोदित निरीक्षण निकायों को आबंटन के लिए प्रस्तावित गतिविधियां
        • • अनुमोदित निरीक्षण निकायों के प्रदर्शन की मानीटरिंग
        • • नियंत्रण तंत्र
        • • पहचान किए गए निरीक्षण लक्ष्यों को उप ठेकेदारों का अनुमोदन
        • • उत्पाद की गुणवत्ता के लिए जिम्मेदारी
        • • चरणबद्ध कार्यान्वयनः उप ठेकेदार के परिसर में महत्वपूर्ण विमानन भंडार से संबंधित गतिविधियों पर चरण-1 के कम से कम एक वर्ष के संतोषजनक प्रदर्शन के बाद वै.गु.आ.मनि/रक्षा मंत्रालय द्वारा वायुसेना मुख्यालय के साथ परामर्श के बाद विचार किया जाएगा ।
        • • एचएएल एलसीए तेजस डिविजन, बंगलुरू अपने उप ठेकेदारों के लिए तृतीय पक्ष निरीक्षण कार्यान्वित करने वाला पहला एचएएल डिविजन बन गया है ।
        • तृतीय पक्ष निरीक्षण नीति दस्तावेज़
  • एचएएल द्वारा अनुमोदित टीपीआई निकायों की सूची
एचएएल द्वारा अनुमोदित टीपीआई निकायों की सूची
  • HAL LCA तेजस डिवीजन बंगलौर अपने उप ठेकेदार के लिए थर्ड पार्टी इंस्पेक्शन (TPI) को लागू करने वाला पहला HALdivision बन गया है
एचएएल एलसीए तेजस डिवीजन बंगलौर में टीपीआई कार्यान्वयन
Back to top